Sad Relationship And Family Shayari |Broken relationship [टुटे रिश्ते]

रिश्ते और परिवार पर दुख भरी शायरी  [ Sad relationship and family Shayari ]



मै रिश्ते निभाता भी नहीं-


Sad relationship and family shayari
Sad Relationship Shayari 

बेशक, मै रिश्ते तोड़ता नहीं,
पर बेशरम होकर अगर निभाना पडे तो निभाता भी नहीं
○○○




जिंदगी में कमी-


जिंदगी मे कुछ कमी लगती है,
आखों में मेरे सिर्फ नमी रहती है।
मैने वक्त से पहले अपनों को खो दीया,
हर सपना पूरा होने से पहले टुट गया।

○○○





डर लगता है कुछ अपनों से-


Sad-relationship-and-family-shayari
Sad-relationship-and-family-shayari
ज्यादा सलाह नहीं लेता किसी से,
ना खुद की तारीफ भी चाहता हूँ हर किसी से,
गैरो की बात नहीं,
मुझे डर लगता है कुछ अपनों से।
____________________




उसे हक नहीं-



जो दिक्कत पूछ नहीं सकता,
उसे सलाह देने का हक नहीं।

जो अपना फर्ज नीभा नहीं सकता,
उसे उम्मीद रखने का भी कोई हक नहीं।


○○○




अपने और गैर-


Sad-relationship-and-family-shayari
Sad-relationship-and-family-shayari
कभी अपनों ने सिखाया,
तो कभी गैरो ने सिखाया,
अपने और गैर में फर्क क्या होता है?  
इन दोनों ने मुझे सिखाया।
______________




इधर की बातें उधर करने वाले-


कुछ चेहरों से अभी पता चला है,
कहीं आग लगी है,
इसलिए तो धुआँ फैल रहा है।
अभी तो मिला नहीं,

पर वो लोमडी इधर की बातें उधर कर रहा है।

○○○




गर_टूटे कहीं दिल -



Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari 

जहाँ "अपनापन" मिले, वहाँ हमेशा होता हूँ...
गर_टूटे कहीं दिलसच कहूँ तो वहाँ बहुत कम जाता हूँ...
○○○





मजबूरी-


दम तो बहुत है इन बाजुओं में,
पर आज के हालात को नाकबूल कैसे करूँ?

अभी तो हाथ खाली है,
जवाब में इससे ज्यादा और क्या कहूँ?


○○○





परवाह नहीं थी मेरी-


Sad-relationship-and-family-shayari
Sad-relationship-and-family-shayari
अब...खुफिया तरीके से...
मेरी खबर रखी जा रही है...
जिन लोगों को कभी...
परवाह नहीं थी मेरी...सुना है,
"परशू...अब उनके दिल में रहने लगा है.
○○○



अपने और पराये-


Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari

बहुत देखे है,
पराये भी अपने भी।
अपनों में गैर भी,
और गैर में निकले कुछ अपने भी।
○○○




कुछ अपने अपनों को क्या देते है?-


Sad-relationship-and-family-shayari
Sad-relationship-and-family-shayari

पता है? कुछ अपने भी अपनों को क्या देते है?
जब उनके लिए कोई चीज पूरानी हो जाती है,
तो वो कचरा, प्यार से अपनोंको देते है।
______________________



बदलने वाले की याद-


Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari

रिश्ता कोनसा भी हो
मैं भूलता नहीं।
चाहे किसी दुश्मनी का भी हो,
मै उसे छोड़ता नहीं।
○○○




परिवार-


अकेलेपन में, मखमली  बिस्तर भी मुझे, काटों सा चुभता है,
अब बिस्तर तो मुझे, परिवार जैसा लगता है,

नींद कहाँ आती है आजकल 
चादर और पलंग माँ बाप की तरह,
कम्बल और तकिया मुझे भाई-बहन की तरह दिखता है।


☆☆☆




टुटे रिश्तों पर शायरी (Shayari on Broken relationship):



आंखो की ये गलतियाँ-


Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari

आखों की ये गलतियाँ कमबख्त ये दिल पिघलता है,
कोई अपना होकर भी पराया, कोई पराया होकर भी अपना निकलता है।
○○○



Har rishton ki yad-


Kaise kahun?
kitana tadapati hai yade,?

ruk ruk ke
Har rishton ki yad dilati hai yade.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~



 वो बार-बार दिल तोडती है मेरा-



Broken-relationship-and-family-shayari
Broken-relationship-and-family-shayari
वो बार-बार दिल तोडती है मेरा,
फिर भी उसके पास जाता हूँ, 
मुझे फिकर है उसकी बेशरम बन जाता हूँ। 
○○○



रिश्तों को, अपनों को पिछे छोड रहे है-


तरक्की के लिए देखो 
किस तरह से भाग रहे है कुछ लोग,
सारे रिश्तों को, अपनों को भी
पिछे छोड जा रहे है ये लोग...
~~~~~~~~~~~




मुझे अपना कहने वाले-


Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari

"आज मुझे अपना कहने वाले बहुत है,"
हा बिलकुल सही पढ़ रहे है आप,
'सिर्फ अपना कहने वाले बहुत है।'
○○○




चली जा यहाँ से-


तूझे देखता हूँ, तो अतीत तडपाता है,
चली जा यहाँ से, तेरा आस-होना भी मुझे तनहा कर देता है।


○○○



गलतफेहमी-


Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari

शामिल हो गयी वो भी मेरी तनहाईयों में,
स्वागत है उसका भी गलतफेहमी करने वालों की कतार में।
○○○



आदतों ने रुला दिया-


Broken-relationship-and-family-shayari
Broken-relationship-and-family-shayari

सबने मुझे भुला दिया,
दिल से रिश्ते निभाने का क्या खूब सीला दिया,
फिर भी गिला नहीं किसीसे,
कयोकी मुझे मेरी ही आदतों ने रुला दिया।
○○○




अक्सर अपने तकलीफ दे जाते है-


गैरों से उतनी कहां तकलीफ होती है, 
उनसे हुई बैजती भी हम भूल जाते है,
अगर तकलीफ की बात करूँ, तो

अक्सर अपने ही तकलीफ दे जाते है।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~




अपनों ने भुला दिया-


Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari

मेरे अपनों को लगा कि मै उन्हे भुल गया,
पर मै तकलीफ में था,
और उन्होंने मुझे भुला दिया।
○○○



वहाँ मै छोटा था या पराया-


न जाने वहाँ मे छोटा था या फिर पराया,
जो अपनो की महफिल मे से हमको,
दूर जाने के लिए कहा गया,
एक ही तो दरवाजा खुला था
वहां जाने के लिए,
शायद बड़े भाई ने वो भी बंद कर दिया
वहां आने के लिए...?


○○○




सच बोलने की आदत ने हमे-


Sad relationship and family shayari
Sad relationship and family shayari

आज रिश्ते झूठ की बुनियाद 
पर भी टिक रहे है,
और हम है की सच बोलकर 
हर रिश्ते से दूर जा रहे।
•••




जख्म जिसके हो, दर्द उसी के होते है-


जख्म जिसके हो,
दर्द उसी के होते है,
अपनों की मौत पर भी यहाँ, 
कुछ अपने हँसते है,
~~~~~~~~~

Related Post:-



Mother Shayari [ माँ पर शायरी ]


हैलो दोस्तों, इस पोस्ट में माँ पर लिखी
हुई  shayari  है। आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हो।
जिंदगी में माँ बच्चों की पहली गुरू होती है, और जो माँ सिखाती है बच्चे वही बनते है और वो एक माँ ही होती है जो अपने बच्चों के मन को पूरी तरह से समझती है। 

इसी तरह इस पोस्ट में मैने shayari के माध्यम से माँ के बारे में बहुत सी जानकारी लिखी है।
इसके अलावा इस वेबसाइट के पोस्ट कैटेगरी में आपको माँ से सम्बंधित और पोस्ट भी पढ़ने और शेयर करने को मिलेंगे। जैसे, माँ पर कोट्स  ( mother
quotes ) , माँ पर दुख भरे कोट्स ( sad mother quotes )

माँ पर शायरी ( Mother Shayari):



माँ के लिए आसान...-


Mother-shayari
Mother-shayari 

इतना भी आसान कहां किसी के आंसु रोकना 
किसी का डर खत्म करना 
जितना की एक माँ के लिए आसान होता है
अपने रोते हुए बच्चे को चूप करना

itana bhee aasaan kahaan kisee ke aansu rokana kisee ka dar khatm karana jitana kee ek maan ke lie aasaan hota hai apane rote hue bachche ko choop karana
___________________




माँ का प्यार-


एक औरत से ज्यादा और किसने प्यार किया है,
कभी माँ के रूप में उसने,
बेटे को भी दिल निकालकर दिया है।

ek aurat se jyaada aur kisane pyaar kiya hai, kabhee maan ke roop mein usane, bete ko bhee dil nikaalakar diya hai.

☆☆☆




माता-पिता के बिना-


माता-पिता के बिना  
वीरान लगती है ये दुनिया,
लगता है, काट खायेगी ये दुनिया।

maata-pita ke bina veeraan lagatee hai ye duniya, lagata hai, kaat khaayegee ye duniya.

~~~~~~~~~~~~~~~~



खुद को खूश दिखता हूँ-


खुद को बहुत खुश दिखाता हूँ,
माँ को धोके में रखकर उसे खुश देखता हूँ।

khud ko bahut khush dikhata hun 
Maa ko dhoke me rakhakar use khush dekhata hun



Samazdari Shayari | समझदारी (Understanding)


समझदारी पर शायरी ( Understanding Shayari):



पहचान-



Understanding-shayari
Understanding-shayari 

कभी लफ्ज गलत पहचान देते है,
तो कभी किसी की हरकत गलत लगती है।
दूर से किसी को पहचानना आसान नहीं,
जिसको जिस नजर से देखो उसकी सूरत वैसी ही दिखती है।

°°°




जहाँ से उठो वहाँ कोई और बैठ जाता है-


जहाँ से उठो वहाँ कोई और बैठ जाता है,
दुनिया में हर कोई सबकी कहां सोचता है।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~



गलत ना समझ-


Understanding Shayari
Understanding Shayari 

कुछ भी समझलेकिन गलत ना समझ।

हालात नहीं तो नहीं, मेरे जज्बात तो समझ ।
°°°





हर कोई कहां समझता है-


जिसको जो अच्छा लगता है,
अक्सर वो वहीं करता है,

अगर दो अच्छी सलाह,
तो हर कोई कहां समझता है।

°°°°




Khud ko kam mat samzo-



Understanding-shayari
Understanding Shayari 

Khud ko kisi se
''KAM'', mat samjo, ''Kyun ki 
HAUSLA milata hai.

''Sabse JYADA'', bhee mat samjo,
''Kyun  ki
isme ghamand hota hai...
°°°




मेरे रंग-


कोई मुझे careful कहता है,
तो कोई helpful कहता है,
ये तो तारीफ की बातें है,

वैसे नासमझ इंसान मुझे bloody fool भी कहता है।


°°°




अगर कोई समझता नहीं-


Understanding Shayari
Understanding Shayari 

अगर कोई मुझे समझता नहीं,
तो समझाना मैं जरूरी समझता भी नही।
°°°





कौन किसे समझता है यहाँ?-


कौन किसे समझता है यहाँ?
किसी के बातों का भी 
गलत मतलब निकाला
जाता है यहाँ।।।
~~~~~~



गलत समझ-


Understanding Shayari
Understanding Shayari 

उसने मुझे गलत समझ लिया,

 वाह!!! जो मै सोच भी नहीं सकता,
उसने मुझे वो समझ लिया।
°°°




Jisaka Jitana Dimag-


Jisaka Jitana Dimag
Usakee Soch Utani,
Kisi Se jyada bhi Shikayat Karana
Bewakufi Apani.
~~~~~~~~~



कुछ लोगों की समझ-



understanding shayari
Understanding Shayari 

कुछ लोगों की समझ तो देखो
किसे क्या समझते है?
एक बार क्या दे दिया किसी ने धोखा,
ये सबको धोखेबाज समझते है।

°°°





मुझे समझना


Understanding Shayari
Understanding Shayari 

मुझे समझना यानी, "तैरना न आएं और समंदर में कोई डुबकी मारे"।
~~~

यह post भी पढिए:-